June 17, 2024 5:25 AM

Search
Close this search box.

उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव से पहले 3 आईएएस समेत 10 अफसरों के तबादले, किसे कौन सा विभाग मिला देखें लिस्ट

देहरादून: उत्तराखंड सचिवालय से एक और ट्रांसफर आदेश जारी हुआ है. इसमें तीन आईएएस अधिकारियों की जिम्मेदारी में बदलाव हुआ है. जिन अधिकारियों की जिम्मेदारी बदली गई है, उनमें हरीश चंद्र सेमवाल, दीपेंद्र चौधरी और आशीष भटगाई का नाम शामिल है. हरीश चंद्र सेमवाल से सचिव मानवाधिकार आयोग की जिम्मेदारी वापस ली गई है. दरअसल हरीश चंद्र सेमवाल का पिछले दिनों स्वास्थ्य खराब हो गया था. इसके बाद उनके विभागों की जिम्मेदारी दूसरे अधिकारियों को दी जा रही है. हरीश चंद्र सेमवाल से हटाई गई ये जिम्मेदारी दीपेंद्र चौधरी को दे दी गई है.

आईएएस आशीष भटगाई को निदेशक प्रशासन एवं मॉनिटरिंग पंतनगर कृषि विश्वविद्यालय की जिम्मेदारी दी गई है. इससे पहले वह निदेशक समाज कल्याण की भी जिम्मेदारी देख रहे हैं. इसके अलावा सचिवालय सेवा के अपर सचिव अतर सिंह से गृह की जिम्मेदारी वापस ले ली गई है. अतर सिंह लंबे समय से इस जिम्मेदारी को देख रहे थे. ऐसे में वह खुद भी मुख्य सचिव से अपनी इस जिम्मेदारी से अवमुक्त होने की दर्ख्वास्त लगा चुके थे. माना जा रहा है कि पुलिस विभाग के कुछ अधिकारियों का भी इसको लेकर भारी दबाव था. वहीं अतर सिंह की अपनी इच्छा भी अब इस विभाग में काम करने की नहीं थी.

पीसीएस अधिकारियों में दिनेश प्रताप सिंह को उनके काम का इनाम मिला है. वह डोईवाला चीनी मिल की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं. पिछले कुछ समय में उन्होंने चीनी मिल को फायदे में लाकर खड़ा किया है. बताया जा रहा है कि उनके इसी काम को देखते हुए अब उन्हें प्रधान प्रबंधक चीनी मिल नादेही की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है.

मोहम्मद नासिर को संयुक्त निदेशक डॉ आरएस टोलिया उत्तराखंड प्रशासन अकादमी की जिम्मेदारी मिली है. कौस्तुभ मिश्र से यह जिम्मेदारी हटाई गई है. जितेंद्र कुमार को नगर आयुक्त नगर निगम रुड़की की जिम्मेदारी मिली है. विजयनाथ शुक्ला से नगर आयुक्त नगर निगम रुड़की की जिम्मेदारी वापस ली गई है. हालांकि उन्हें सचिव जिला विकास प्राधिकरण नैनीताल बनाया गया है. साथ ही महाप्रबंधक कुमाऊं मंडल विकास निगम की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है.

उधमसिंह नगर में बनभूलपुरा विवाद को लेकर विवादों में रहने वाले पंकज उपाध्याय को सचिव जिला विकास प्राधिकरण उधमसिंह नगर की अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है.