January 27, 2023 6:54 am

दो पत्नियों ने कर दिया पति का बंटवारा, हफ्ते में तीन दिन पहली और तीन दिन दूसरी के साथ रहेगा, एक दिन चलेगी उसकी मर्जी

मुरादाबाद: मुरादाबाद में दो पत्नियों से निकाह करने के बाद परिवार में विवाद होने लगा था। पति को अपने साथ रखने को लेकर एक पत्नी ने पुलिस में शिकायत की। मामले को काउंसलिंग के लिए नारी उत्थान केंद्र भेजा गया था। काउंसलिंग के बाद पति और दोनों पत्नियों ने हफ्ते के तीन-तीन दिन पति के साथ रहने के लिए बांट लिए। पहले तीन दिन सोमवार से बुधवार तक पहली पत्नी और दूसरे तीन दिन गुरुवार से शनिवार तक दूसरी पत्नी के साथ रहेगा। जबकि एक दिन पति अपनी मर्जी के साथ किसी साथ रह सकता है। मुरादाबाद के नारी उत्थान केंद्र में परिवार की मौजूदगी के बाद यह समझौता तय हुआ। जिसके बाद विवाद खत्म हो गया।

दो माह पहले महिला ने की थी शिकायत

मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा निवासी महिला ने दो माह पहले एसएसपी हेमराज मीना के सामने पेश होकर शिकायत की थी। महिला ने बताया कि साल 2017 में उसका गौतमबुद्ध नगर के जेवर थाना क्षेत्र के किला कालोनी निवासी सलीम के साथ निकाह किया था। लेकिन पति निकाह करने के बाद उसे ससुराल नहीं ले गया। शहर में ही वह उसे लेकर किराये के आवास पर रहता था। जब महिला ने ससुराल जाने की जिद की,तो पति ने ले जाने से इन्कार कर दिया। वहीं कुछ दिनों बाद पति अचानक गायब हो गया। परेशान महिला ने पति की तलाश करते हुए ससुराल पहुंच गई। उसे वहां जाकर पता चला कि पति पहले से शादीशुुदा है,इसके साथ ही उसके तीन बच्चे भी हैं। मामले की जानकारी बाद दूसरी पत्नी भड़क गई। जिसके बाद उसने एसएसपी कार्यालय में पेश होकर शिकायत की।

शिकायत के बाद नारी उत्थान केंद्र में हुई काउंसलिंग

महिला के शिकायत पत्र का संज्ञान लेकर नारी उत्थान केंद्र दोनों पक्षों को काउंसलिंग के लिए भेजा गया। नारी उत्थान केंद्र के काउंसलर एमपी सिंह ने दोनों पत्नी और पति को बुलाकर बातचीत की। इस दौरान पता चला कि दूसरी पत्नी को पति के पहले शादीशुदा होने की जानकारी थी। साल 2017 में अंजान नंबर पर बातचीत के दौरान दोनों में दोस्ती हो गई थी। पति ने खुद युवती के घर जाकर निकाह होने की जानकारी दी थी। परिवार की मर्जी से पति ने दूसरा निकाह किया था। पति का आरोप था कि उसका पत्नी से कोई विवाद नहीं हैं। दूसरी पत्नी से एक बेटी है। लेकिन उसके ससुराल वाले पत्नी को भड़काकर विवाद करते हैं। उसने कहा कि वह दूसरी पत्नी को साथ रखने के लिए राजी है। इसके लिए वह जेवर में ही किराए का कमरा खोज रहा है।

पति दोनों को बराबर देगा समय

काउंसलिंग के दौरान दूसरी पत्नी ने कहा कि अगर उसे पति अपने साथ रखने के लिए राजी है,तो उसे कोई शिकायत नहीं हैं। लेकिन दोनों को बराबर समय देना पड़ेगा। वहीं पहली पत्नी भी कुछ शर्तों के साथ राजी हो गई। इस दौरान यह तय हुआ कि दोनों पत्नियां ससुराल में ही रहेंगी। लेकिन पति तीन-तीन दिन दोनों के साथ रहेगा। जबकि एक दिन वह अपनी मर्जी से रहेगा। दोनों पत्नियों को बराबर खर्चा देने और देखभाल की शर्त तय होने के बाद समझौता करा दिया गया।

फोन पर बातचीत के बाद शादी में हुई मुलाकात

घरों में पुताई का काम करने वाले सलीम ने बताया कि उसका पहला निकाह 2013 में जेवर निवासी युवती के साथ ही हुआ था। दोनों के तीन बच्चे हैं। जबकि दूसरी से मुलाकात अंजान नंबर पर बातचीत करते हुए 2017 में हुई थी। इसके बाद वह मिलने के लिए एक शादी में गया था। वहां पर दोनों ने मुलाकात की थी। इसी दौरान घर वालों को इसकी जानकारी हुई तो पुलिस में उसकी शिकायत कर दी। जिसके बाद उसने दूसरी युवती के घर जाकर उनके स्वजन से बातचीत की थी।

पहले निकाह और बच्चों की दी थी जानकारी

इस दौरान उसने पहले निकाह और बच्चों के बारे में जानकारी दी थी। लेकिन दूसरी पत्नी और उसके स्वजन दूसरे निकाह के लिए राजी हो गए थे। लेकिन बाद में ससुराल वालों के बहकावे में आकर पत्नी ने उसकी शिकायत की थी। लेकिन अब उनका समझौता हो गया है। आगामी 27 जनवरी को वह मुरादाबाद आकर पत्नी को ले जाएगा। इसके लिए उसने किराए का कमरा भी ले लिया है। वह दोनों पत्नियों को जेवर में ही रखेगा।

Related Posts