January 27, 2023 6:47 am

बर्फ की सफेद चादर से ढका केदारनाथ धाम, 3 फीट जमी बर्फ, बिजली आपूर्ति भी हुई ठप

रुद्रप्रयाग: बाबा केदार की नगरी केदारपुरी (Kedarpuri) इन दिनों बर्फ की सफेद चादर से ढ़की हुई है. बर्फबारी (Snowfall) के बाद हिमालय के अलावा केदारपुरी की भव्यता निखर कर आई है. बर्फबारी के बाद केदारनगरी में चल रहे द्वितीय चरण के निर्माण कार्य प्रभावित हो गये हैं, जबकि ठंड के चलते कार्य करने में लगे लोग अब नीचे लौट आये हैं. केदारनगरी का तापमान माइनस 14 डिग्री तक पहुंच चुका है और यहां सबकुछ जमने लग गया है. अब केदारनाथ में सिर्फ साधु-संत ही रह रहे हैं. वहीं दूसरी ओर तृतीय केदार तुंगनाथ धाम में भी जमकर बर्फबारी हुई है. बर्फबारी का आनंद उठाने के लिए सैलानी भारी संख्या में यहां का रूख कर रहे हैं, जिससे पर्यटन व्यवसाय को भी लाभ मिल रहा है.

केदारनाथ धाम में तीन फीट तक जमी बर्फ

दो दिनों तक केदारनाथ धाम में तीन फीट तक बर्फ गिर चुकी है और अब धाम में मौसम साफ है. मौसम साफ होने के बाद केदानाथ धाम बर्फ में चांदी की तरह चमक रहा है. धाम में चारों ओर सिर्फ बर्फ ही बर्फ है. धाम में हुई बर्फबारी के कारण यहां बिजली और पानी की आपूर्ति भी ठप हो गई है. इसके अलावा धाम में चल रहे सभी प्रकार के पुनर्निर्माण कार्य कुछ दिनों तक के लिये बंद कर दिये गये हैं. अब मौसम साफ होने और बर्फबारी कम होने के बाद ही कार्य शुरू हो पाएंगे. केदारनाथ धाम में बर्फबारी के कारण सबकुछ जमने लग गया है और यहां बर्फ को उबालकर पानी पीना पड़ रहा है.

तुंगनाथ और चोपता में भी बर्फबारी

मौसम विभाग की मानें तो आने वाले कुछ दिनों में भी केदारनाथ धाम सहित अन्य हिमालयी क्षेत्रों में बर्फबारी जारी रहेगी. वहीं दूसरी ओर तृतीय केदार तुंगनाथ में भी बर्फबारी का सिलसिला जारी है. बर्फबारी होने से व्यापारियों के चेहरे पर मुस्कान बनी हुई है. भारी संख्या में पर्यटक बर्फबारी का लुत्फ उठाने के लिए तुंगनाथ-चोपता पहुंच रहे हैं. जिससे स्थानीय लोगों का व्यापार भी अच्छा चल रहा है. बर्फबारी नहीं होने से जहां व्यापारी मायूस नजर आ रहे थे, वहीं अब उनके चेहरों पर मुस्कान देखी जा रही है.

Related Posts