December 4, 2022 5:43 pm

जंगल घास लेने गईं थी महिलाएं, हाथियों ने सूंड़ में लपेट कर फेंका, 4 घायल…

खटीमा: उधमसिंह नगर जिले के सीमांत इलाके खटीमा में जंगली जानवरों ने आतंक से लोग डरे हुए हैं. जंगली जानवर आए किसी न किसी पर हमला कर रहे हैं. ताजा मामला खटीमा में किलपुरा वन रेंज से सटे आलावर्दी गांव का है, जहां हाथियों ने चार महिला पर हमला कर दिया. हाथियों के हमले से चारों महिला गंभीर रूप से घायल हो गई. घायल महिलाओं को वन विभाग कर्मियों ने खटीमा उप जिला चिकित्सालय में कराया भर्ती, जिसमें से तीन महिलाओं की गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें हायर सेंटर रेफर कर दिया. जानकारी के मुताबिक आलावर्दी गांव की रहने वाली गोमती देवी, भागीरथी देवी, जमुना देवी, सुमन, ज्योति और आभा देवी अपने मवेशियों के लिए चारापत्ती लेने जंगल जा रही थी, तभी गांव से निकलते ही जंगल के किनारे नाले पर पीछे से हाथियों ने हमला कर दिया. अचानक हुए हाथियों के हमले के कारण महिलाओं में अफरा-तफरी मच गई, महिलाओं ने भागने की कोशिश की, लेकिन हाथियों ने महिलाओं को अपनी सूंड़ में लपेट कर फेंकना शुरू कर दिया. महिलाओं की चीख-पुकार सुनकर ग्रामीण आ गए, जिसके बाद हाथी जंगल की ओर चले गए.

हाथियों के हमले में 40 वर्षीय आभा देवी, 35 वर्षीय गोमती देवी, 18 वर्षीय सुमन व 18 वर्षीय ज्योति गंभीर रूप से घायल हो गई. ग्रामीणों ने वन कर्मियों की मदद से चारों घायल महिलाओं को उप जिला चिकित्सालय खटीमा भर्ती कराया, जहां आभा देवी, गोमती देवी और ज्योति के पैर की हड्डियां कई जगह से टूटने के कारण उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है.

बता दें कि चार दिन पहले भी हाथियों ने एक महिला पर हमला किया था, जिससे महिला गंभीर रूप से घायल हो गई थी. खटीमा वन विभाग के एसडीओ संतोष पंत ने बताया कि बीते कुछ दिनों से खटीमा और उसके आसपास के जंगलों में हाथियों का मूवमेंट काफी बढ़ गया है. वहीं वन विभाग ने जंगल से सटे आबादी क्षेत्र में मुनादी कराई है कि बिना आवश्यक कार्य के जंगल ना जाए.

 

Related Posts